Basic-Computer

Intranet क्या है – इंट्रानेट क्या है – What is Intranet in Hindi

Intranet kya hai

Intranet क्या है – इंट्रानेट क्या है – What is Intranet in Hindi – Intranet क्या है? Internet और Intranet में क्या difference है? इंट्रानेट के फायदे और नुकसान Hello Friends! How are you? Welcome again to Guptatreepoint blog. दोस्तों आज के इस पोस्ट में मैं आपको बताऊंगा की Intranet क्या है?

Intranet क्या है – इंट्रानेट क्या है?

Intranet एक secure और Private Network होता है जो की Internet Protocol (IP) का उपयोग करके एक Organization के बीच डाटा को share करने का काम करता है| Intranet का इस्तेमाल बड़े बड़े Organization में private डाटा को share करने के लिए होता है| बड़े बड़े Organization अपने Staff के बीच Private data को share करने के लिए Intranet का इस्तेमाल करते हैं|

Internet (इन्टरनेट) और Intranet (इंट्रानेट) दोनों नाम लगभग मिलता जुलता है और इसलिए अधिकांश लोग इन दोनों नामो को एक समझ कर Confuse हो जाते हैं, जबकि दोनों एक नहीं है| Internet (इन्टरनेट) एक public network होता है जो की दुनिया के सभी computers को connect करने का काम करता है और दुनिया में कहीं भी data share करने की facility provide करता है जबकि Intranet (इंट्रानेट) एक software होता है जिसका उपयोग एक Organization के अन्दर Data share करने के लिए होता है|

इंट्रानेट सॉफ्टवेयर को बड़े बड़े organization अपने संस्थान में उपयोग करते हैं ताकि उस संस्थान के अन्दर जितने भी computers हो वो एक दुसरे से Private रूप से जुड़कर डाटा को बिना Hard Disk और बिना Pen Drive की मदद से एक दुसरे के बीच share कर सके| इसमें Internet Protocol (IP) (इन्टरनेट प्रोटोकॉल) की मदद से किसी भी Organization या Company में मौजूद सभी Computers को एक दुसरे से जोड़ा जाता है|

साधारण शब्दों में समझे तो Local Area Network (LAN) और Wide Area Network (WAN) के साथ Intranet (इंट्रानेट) को स्थापित (Establish) किया गया है ताकि एक organization के अन्दर डाटा को Private रूप से share किया जा सके|

इंट्रानेट के फायदे – Advantages of Intranet in Hindi:

इंट्रानेट के कुछ फायदे हैं जो की निचे दिए गए हैं: –

1. Cost Effectiveness (कम लागत)

दुनिया के सभी कंपनिया अपने Business में कम पैसा खर्च करना चाहती हैं और इसके लिए Intranet (इंट्रानेट) एक बहुत ही बड़ा advantage है क्योंकि जब आप अपने Organization में Intranet setup कर देंगे तो आपको अपने Organization के सभी Employee को अलग अलग Fax या Mail करने की जरुरत नहीं पड़ेगी, आप अपना कोई भी Notice अपने Intranet network में upload कर सकते हैं जहाँ से सभी Computers में शेयर हो जायेगा| जब हमे Fax और Mail नहीं करना पड़ेगा तो हमारा पैसा बचेगा|

2. Easily share Information (सुचना आसानी से शेयर किया जा सकता है)

आप अपने Intranet software के माध्यम से केवल एक click में अपने सभी Employees तक सुचना भेज सकते हैं आपको इसके लिए कोई भी Notice board नहीं लगाना होगा| इंट्रानेट का सबसे best advantages यह भी है आप Information को access करने के लिए Authorize access लगा सकते हैं जिससे केवल वही Person information को access कर सकता है जिसके पास Authorization permission होगा यानि की Authorization code होगा| Organization के लिए यह बहुत ही जरुरी है|

3. More Productivity – अधिक उत्पादकता

इंट्रानेट का एक यह भी फायदा है की इससे आपके कंपनी का growth होगा मतलब की आपके कंपनी में ज्यादा Product का उत्पादन होगा, वो इस प्रकार होगा क्योंकि आपके Employees को कोई भी file search करने में ज्यादा समय नहीं लगेगा, और आपके कंपनी के Workers काम पर ज्यादा समय बिताएंगे|

इंट्रानेट के नुकसान – Disadvantages of Intranet

जिसके फायदे होते हैं उसके नुकसान भी होते हैं क्योंकि एक सिक्के के दो पहलु होते हैं| इंट्रानेट के कुछ नुकसान भी हैं जो की निचे दिए गए हैं|

1. Security Risk

इंट्रानेट में भी security setting होता है और कभी कभी जब यह setting पूरी तरह से complete नहीं किया जाता है तो कुछ हैकर आपके Private Network को access करके data को हैक कर लेते हैं मतलब की यहाँ पर भी डाटा चोरी होने का दर रहता है|

2. Less People Interaction

जब से इन्टरनेट और इंट्रानेट की दुनिया आया है तब से लोग एक दुसरे से आमने सामने interact नहीं करते हैं जिससे की लोगो के बीच दूरियां बढ़ जाती है| जब आप अपने Organization या Company में इंट्रानेट का इस्तेमाल करेंगे तो आपके company के Employee को एक दुसरे से interact करने का मौका नहीं मिलेगा जिससे लोग एक दुसरे को अच्छे तरीके से नहीं समझ पाएंगे|

3. Work culture में changement आएगा

जब सब काम fastly होगा तो उतना ही फ़ास्ट आपके employee को task भी मिलेगा जिससे आपके Company का growth तो होगा वो एक फायदा है लेकिन आपके Employee काम करते करते उबाऊ महसूस करेंगे, और काम करने में उनका मन नहीं लगेगा|

Internet (इन्टरनेट) और Intranet (इंट्रानेट) के बीच difference:

जैसा की मैंने ऊपर में बताया था की दोनों शब्द काफी हद तक मिलते जुलते हैं लेकिन दोनों का मतलब अलग अलग होता है, पर दोनों में एक Similarities जरुर है, वो ये है की दोनों ही डाटा शेयर करने का काम करते हैं| अब चलिए हम Internet और Intranet के बीच difference देख लेते हैं|

1Internet एक Public Network होता है जो की पुरे दुनिया में कहीं भी access किया जा सकता है|Intranet एक Private Network होता है जो की Organization के अन्दर उपयोग होता है और यह केवल Organization के अन्दर ही Accessible होता है|
2यह तरह तरह के नेटवर्क को एक साथ जोड़ने का काम करता है|यह इन्टरनेट का पार्ट होता है जो की केवल एक नेटवर्क को ही जोड़ने का काम करता है वो भी Private way में|
3इसको Unlimited लोग access कर सकते हैं|इसको केवल Organization के Members, staff ही access कर सकते हैं| मतलब की इसमें limited user access कर सकते हैं|
4यह सुरक्षित नहीं है|यह सुरक्षित है|
5इसमें बहुत ज्यादा Visitors आ सकते हैं|इसमें बहुत कम visitors आयेंगे|

Conclusion and Final Words

Intranet और Internet दोनों शब्द काफी मिलते जुलते हैं लेकिन एक नहीं है, और इसी में अधिकांश लोग Confuse हो जाते हैं| Intranet एक Private Network है जबकि Internet एक Public Network है|

दोस्तों मैंने इस पोस्ट में बताया की Intranet क्या है, इसके फायदे और नुकसान के बारे में बताया और इसके साथ साथ Internet और इंट्रानेट में difference भी बताया| मुझे उम्मीद है की यह पोस्ट आपको काफी पसंद आया होगा इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें और साथ ही साथ यदि आपको लगता है की इसमें कोई changement होना चाहिए तो आप मुझे तुरंत inform करने| Guptatreepoint blog पर आने के लिए धन्यवाद|

About the author

SUMIT KUMAR GUPTA

Myself Sumit Kumar Gupta. I am a programmer and blogger. I spend more time on programming and helps other programmers. I am a part-time blogger because I would like to become a Software developer.

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.