Basic-Computer

Web Browser – वेब ब्राउज़र क्या होता है – What is Web Browser in Hindi?

Web Browser क्या है

वेब ब्राउज़र क्या होता है – What is Web Browser in Hindi? Web Browser definition in Hindi. Hello Friends! How are you? Welcome again to Guptatreepoint blog. दोस्तों इन्टरनेट चलाने के लिए आप अपने मोबाइल में या डेस्कटॉप यानि की computer में वेब ब्राउज़र (Web Browser) का इस्तेमाल करते होंगे लेकिन क्या आप जानते हैं की आखिर वेब ब्राउज़र क्या होता है – What is web browser in Hindi? वेब ब्राउज़र कैसे काम करता है?

वेब ब्राउज़र क्या होता है – What is Web Browser in Hindi?

Web browser एक application software होता है जिसका इस्तेमाल इन्टरनेट के द्वारा किसी भी वेबसाइट को कहीं पर भी (World Wide Web) access करने के लिए किया जाता है| Browser application का उपयोग web server से HTML कोड को fetch करके execute कराने के लिए किया जाता है|

दुसरे और आसान शब्दों में कहें तो वेब ब्राउज़र एक software program होता है जिसका उपयोग web page को display कराने के लिए किया जाता है| वेब ब्राउज़र को short form में ब्राउज़र (browser) भी कहा जाता है| वेब ब्राउज़र का उपयोग इन्टरनेट के द्वारा वेबसाइट के वेब page को access करने के लिए किया जाता है| Browser किसी भी वेबसाइट या web page को HTTP (HyperText Transfer Protocol) के माध्यम से user-readable कोड में translate करने का काम करता है|

Server में store information (जैसे की image, audio, video, text etc.) को user device में display कराने का काम ब्राउज़र करता है| या दुसरे शब्दों में कहें तो ब्राउज़र एक application software होता है जो की server और user के बिच interact करने का काम करता है यानि की server और user को एक दुसरे से कनेक्ट करने का काम करता है|

History of Web browser – वेब ब्राउज़र का इतिहास:

ऊपर में हमने जाना की वेब ब्राउज़र क्या होता है? अब हम जानेंगे की वेब ब्राउज़र कब बना और सबसे पहला वेब ब्राउज़र कौन सा था मतलब की वेब ब्राउज़र के इतिहास के बारे में जानेंगे| तो चलिए स्टार्ट करते हैं:

सबसे पहला वेब ब्राउज़र का अविष्कार 1990 में “Tim Berners-Lee” के द्वारा किया गया था जिसका नाम WorldWideWeb रखा गया था| उसके बाद Nicola Pellow को Line Mode Browser लिखने के लिए WorldWideWeb developing के team में hire किया गया यानि की भर्ती किया गया जो Dumb Terminal में web page को display कराने वाले ब्राउज़र का कोड लिखने का काम करते थे|

अब हम जानेंगे की Nicola Pellow कौन थी और Dumb Terminal क्या होता है? दोस्तों Nicola Pellow एक महिला scientist थी जो की CERN ( Chinese Ecosystem Research Network) में WWW project पर Tim Berners-Lee के साथ काम करने वाली उन्नीसवां मेम्बर थीं| वह 1990 में प्रोजेक्ट join की थी|

Dumb Terminal एक output device होता है जो की CPU के द्वारा डाटा accept करता है| वैसा terminal जिसके पास अपना Microprocessor नहीं होता है और कोई भी processing power नहीं होता है वैसे device को dumb terminal device कहा जाता है| Dumb terminal का बेस्ट example ‘Desktop’ होता है क्योंकि जब तक Desktop को CPU से connect नहीं कीजियेगा तब तक वह कोई भी work perform नहीं कर सकता है|

Microsoft ने 1995 में Internet Explorer नाम का एक वेब ब्राउज़र develop किया और उसके बाद जितने भी Windows operating system develop हुआ उन सभी operating system में इस वेब ब्राउज़र को inbuilt कर दिया गया मतलब की आपको अलग से इस वेब ब्राउज़र को इनस्टॉल करने की आवश्यकता नहीं पड़ती थी इसी वजह से यह वेब ब्राउज़र थोडा पोपुलर हो गया|

Read More History about browser

Features of Web Browser – वेब ब्राउज़र में कौन कौन से features होते हैं?

दोस्तों जब भी हम किसी भी चीज का उपयोग करते हैं तो उसके सारे function के बारे में जानते हैं और साथ ही साथ ये भी जानने की कोशिश करते हैं की उसमें कौन कौन से features available हैं| इसी प्रकार जब हम वेब ब्राउज़र develop करते हैं या फिर वेब ब्राउज़र को इस्तेमाल करते हैं तो इसके features के बारे में जानकारी होनी चाहिए| जब भी developer वेब ब्राउज़र develop करते हैं तो उन्हें इन सभी features के बारे में जानकारी रखना अनिवार्य है तभी वो एक अच्छा वेब ब्राउज़र develop कर सकते हैं|

किसी भी web browser में निचे दिए गए सारे features available होते हैं लेकिन कुछ कुछ web browser में ये सभी option show नहीं होते हैं इसके लिए हमें setting से option को show कराना पड़ता है|

  • एक Home button available होता है जिसके द्वारा user directly ब्राउज़र के homepage पर जा सके| आप अपने हिसाब से Home Page का URL change कर सकते हैं|
  • Back और Forward button (Back button का इस्तेमाल पहले वाले page पर जाने के लिए किया जाता है मतलब की अभी जो page open है उससे पहले जो page open था उस page पर जाने के लिए Back button का इस्तेमाल करते हैं| Forward button का इस्तेमाल अगले page पर जाने के लिए किया जाता है जैसे यदि आपने back button से किसी पिछले page पर चले गए हैं तो फिर भी पहले वाला page लाने के लिए Forward button का इस्तेमाल करते हैं|)
  • Refresh Button: Refresh button का काम current page को reload करना होता है जिसका shortcut key F5 होता है|
  • Stop button: current loading page को रोकने के लिए Stop button का इस्तेमाल किया जाता है मतलब की जो page अभी लोड हो रहा है और आप उसे लोड नहीं करना चाहते हैं तो आप stop button का इस्तेमाल कर सकते हैं| कुछ कुछ ब्राउज़र में Refresh button और Stop button को एक ही में merge कर दिया गया है जैसे की Google Chrome में|
  • Address Bar: किसी भी वेब ब्राउज़र में Address bar सबसे ऊपर available रहता है जिसमें हम किसी भी वेबसाइट के URL को enter करके उसके web page को display कराते हैं|
  • Search Bar: Search bar का काम search engine में text input करने के लिए किया जाता है जिसके द्वारा हम search engine से डाटा को search कर सकें| कुछ कुछ search engine में Search Bar और Address bar को एक में ही merge कर दिया गया है जैसे की Google Chrome में|
  1. Web Hosting क्या होता है?

Web Browser कैसे काम करता है – How Web browser works?

दोस्तों आप अपने मोबाइल में या अपने computer में web ब्राउज़र का इस्तेमाल तो करते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं की आखिर Web browser काम कैसे करता है? यह कहाँ से डाटा को लाता है और user के सामने कैसे show करता है| यदि नहीं तो चलिए मैं बताता हूँ|

जब भी आप किसी भी वेब ब्राउज़र में कुछ search करते हैं तो वह सबसे पहले इन्टरनेट connection के जरिये HTTP के through web server से connect होता है (HTTP stand for HyperText Transfer Protocol, यह एक protocol होता है जो की server और clients के पास request और response send करने का काम करता है, Protocol का मतलब होता है रूल) और उसके बाद Web server से HTML (HyperText Markup Language), और अन्य computer language में लिखे गए कोड को fetch करता है मतलब की user device में लाता है और उसके बाद उस कोड के format को समझता है और फिर उसे web page के रूप में convert करता है ताकि user उस web page को आसानी से समझ सके|

आप वेब ब्राउज़र में दो तरीको से डाटा को ला सकते हैं| पहला तरीका है Address Bar or URL box में किसी भी वेबसाइट या किसी भी specific web page का URL enter करके|  इस तरीका के द्वारा आप directly किसी भी वेबसाइट को या उसके कोई specific web page को access कर सकते हैं जैसे की यदि आपको Facebook को directly open करना है तो आपको Web browser के Address bar में Facebook का URL enter करना होगा (www.facebook.com or Facebook.com) 

दूसरा तरीका है डाटा search करके मतलब की यदि आपको कोई भी डाटा search करके उसके बारे में जानना है तो आप Web browser के search box में अपना डाटा enter करें उसके बाद Search engine आपको बहुत सारे result show करेंगे आपको उसमें से कोई एक वेबसाइट को open करना है उसके बाद आप उस वेबसाइट के पुरे डाटा को पढ़ सकते हैं| जैसे यदि आपको search करना है की “How to make money online” तो आप directly इसे Web browser या Search engine के search box में enter कर सकते हैं और search engine जैसे की Google इससे related बहुत सारे result आपके सामने show करेंगे|

Popular Web Browser

हम यहाँ पर कुछ popular web browser के लिस्ट display करा रहे हैं जिसे लोग सबसे ज्यादा उपयोग करते हैं|

  1. Google Chrome
  2. Mozilla Firefox
  3. Microsoft Edge
  4. Internet Explorer
  5. Opera Mini
  6. UC Browser
  7. Safari
  8. Yandex Browser
  9. WorldWideWeb
  10. Brave

Conclusion and Final Words

Web browser एक application software होता है जिसका काम web page को display करने के लिए होता है| यह Internet के द्वारा Web server और Clients को connect करने का काम करता है| Web browser के बहुत सारे features होते हैं जैसे की Refresh and Stop button, Address bar and Search bar, Home button, Back and Forward button etc.

मैंने इस पोस्ट में Web Browser के बारे में बताया की आखिर वेब ब्राउज़र क्या होता है, इसके कौन कौन से features होते हैं और वेब ब्राउज़र कैसे काम करता है? इसके साथ साथ मैंने कुछ popular वेब ब्राउज़र का नाम भी दिया है| मुझे उम्मीद है की यह पोस्ट आपको काफी पसंद आया होगा| कृपया इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें और साथ ही साथ यदि इस पोस्ट में आपको कोई गलती पायें तो मुझे तुरंत इन्फॉर्म करें ताकि मैं उस गलती को सुधार सकूं| Guptatreepoint blog पर आपने के लिए धन्यवाद|

About the author

SUMIT KUMAR GUPTA

Myself Sumit Kumar Gupta. I am a programmer and blogger. I spend more time on programming and helps other programmers. I am a part-time blogger because I would like to become a Software developer.

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.