Basic-Computer

कंप्यूटर क्या है – What is Computer in Hindi and History of Computer

Computer kya hai

कंप्यूटर क्या है – What is Computer in Hindi and History of Computer – कंप्यूटर का इतिहास: Computer के पिता: दोस्तों आज के दिन में computer का इस्तेमाल करना आम बात हो गया है, अब सभी लोग computer के बारे में जानते हैं लेकिन जब आपको कहीं पर भी computer का definition पूछ दिया जाता है तो क्या आप इसका definition बता पाएंगे? यदि हाँ, तो यह आपके लिए बहुत अच्छा है और यदि आपको इसके definition के बारे में नहीं पता तो मैं आपको कंप्यूटर के definition के बारे में बताऊंगा|

Friends! हम computer तो इस्तेमाल करते हैं लेकिन कई बार ऐसा हो जाता है की हम इसका technical definition नहीं दे पाते हैं, अगर आपको भी इसके technical definition के बारे में नहीं पता है तो आज के इस पोस्ट में मैं आपको computer के तरह तरह के definition दूंगा| Hello friends! Welcome back to Guptatreepoint blog. Let’s start…

कंप्यूटर क्या है – What is computer in Hindi?

Computer एक electronic device होता है जो की तरह तरह के arithmetical और logical tasks को human (मनुष्य) की तुलना में तेजी से calculate कर सकता है| यह तरह तरह के Problems को आसानी से solve कर सकता है|

Second definition “Computer एक electronic device or machine होता है जो की user के द्वारा input लेता है, और फिर उस input को memory में store करके उसको process करता है और उसके बाद user को meaningful output provide करता है|” In English: “A computer is an electronic device or machine which takes input from user, stored it into memory and then process the data and after processing it gives meaningful result to the user.”

Computer word को Latin word (रोमन भाषा) “Computare” से लिया गया है, Computare का मतलब होता है count करना, calculate करना. Computer का हिंदी meaning “गणनायंत्र” होता है, यह एक उपकरण(device) होता है जिसका काम किसी भी task को calculate (गणना) करना होता है| Computer का full form “Common Oriented Machine Particularly Used for Technical Educational Research” होता है इसका हिंदी मीनिंग “सामान्य ओरिएंटेड मशीन विशेष रूप से तकनीकी शैक्षणिक अनुसंधान के लिए उपयोग की जाती है”| इसे “Common Purpose Terminal Device” भी कहा जाता है|

C = Common
O= Oriented
M= Machine
P= Particularly
U= United and used for
T= Technical and
E= Educational
R= Research.

Computer का जनक – Father of computer

चार्ल्स बैबैज (Charles Babbage) को कंप्यूटर का जनक और कंप्यूटर का पिता (Father of computer) कहा जाता है, क्योंकि इन्होने ही सबसे पहला mechanical general-purpose computer बनाया था| इन्होने Analytical Engine को 1837 ई. में बनाया था|

History of Computer – Computer का इतिहास

कंप्यूटर का इतिहास आज से लगभग 300 वर्ष पुराना है, इसका इस्तेमाल सबसे पहले गणितीय गणना करने के लिए किया गया था| दोस्तों वर्षो पहले जब हमें किसी भी बड़ी संख्या में गणितीय गणना करना होता था तो मनुष्य के द्वारा यह गणना करना थोडा मुश्किल होता था, तो उस समय हमें एक ऐसे Tools की आवश्यकता की कमी महसूस होने लगी जिससे की गणितीय गणना करने में आसानी हो|

ABACUS गणना करने वाली पहली मशीन बनाई गयी, इसके द्वारा बड़े बड़े गणितीय गणना को आसानी से solve किया जाता था, इसे Calculating tool भी कहा जाता है जिसको सबसे पहले China, Europe और Russia में use किया जाता था| इसका सटीक उत्पति कब हुआ यह अभी भी अज्ञात है| इसमें बहुत सारे छड़ मोतियों से भरे होते थे और मोतियों के फिसला कर के गणितीय गणना किया जाता था| इसका example अभी भी स्लेट में देखने को मिलता है, शायद आपने बच्चे के लिखने वाले स्लेट में सबसे निचे मोती लगे हुए स्लेट देखे होंगे जो की ABACUS को represent करता है| इससे गिनती करना या जोड़ना आसान था लेकिन इससे गुना और भाग करना possible नहीं था|

सन 1616 ई. में, John Napier (जॉन नेपियर) ने एक device बनाया जिसका नाम “Napier’s Bones” दिया, यह device एक आयताकार छड़ से बना हुआ है जिसका इस्तेमाल गणना करने के लिए, जोड़, घटाव, गुणन और विभाजन करने के लिए इस्तेमाल होता था| इसके साथ साथ इसके द्वारा square root भी solve किया जा सकता था|

Napier Bones

Napier Bones

ABACUS और Napier’s Bones के बाद Pascaline आया| Pascaline (पास्कलाइन) जिसे की Pascal’s Calculator और Arithmetical machine भी कहा जाता है, यह एक mechanical calculator है जिसे की Blaise Pascal (ब्लेज पास्कल) के द्वारा 17 वीं शताब्दी में आविष्कार किया गया था| ब्लेज पास्कल के पिता एक Tax commissioner थें जिन्हें अपने काम के overload को कम करने के लिए एक device की आवश्यकता पड़ी, तब उन्होंने अपने बेटे ब्लेज पास्कल से एक device बनाने को कहा जो की उनके काम को आसान कर दे| उसके बाद 1642 ई. में ब्लेज पास्कल ने एक device बनाया जिसमें एक आयताकार box था और उसमें आठ चलने वाले पहिये शामिल थे| इसमें प्रत्येक पहिये के आसपास 0 से 9 नंबर तक display होता था, जिसमें पहिया को घुमाकर के task को perform किया जाता था|

इन सभी device के प्रेरणा से, English Mathematician (अंग्रेजी गणितज्ञ) और computer pioneer (कंप्यूटर अग्रणी) Charles Babbage (चार्ल्स बैबैज) ने एक Mechanical general-purpose computer design किया जिसका नाम “Analytical Engine” दिया गया| यह difference engine के successor के रूप में design किया गया था| यहीं से computer की शुरुआत हुई|

Conclusion and Final Words

आप में से बहुत सारे लोग computer के बारे में जानते होंगे लेकिन क्या आप कंप्यूटर के इतिहास के बारे में जानते थे? दोस्तों मैंने इस पोस्ट में computer क्या है? कंप्यूटर का इतिहास (History of computer) के बारे में बताया है| अगले पोस्ट में मैं आपको Computer के गुण (characteristics), Use (उपयोग) और फायदे (benefits) के बारे में बताऊंगा|

यदि यह पोस्ट आपको पसंद आया तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर share करें और साथ ही साथ आप मुझे comment box के द्वारा ये भी बताएं की आपके लिए कंप्यूटर कितना महतवपूर्ण है| Guptatreepoint blog पर आने के लिए धन्यवाद|

image credit : Wikipedia

About the author

SUMIT KUMAR GUPTA

Myself Sumit Kumar Gupta. I am a programmer and blogger. I spend more time on programming and helps other programmers. I am a part-time blogger because I would like to become a Software developer.

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

4 Comments